अकरकरा के ये अनोखे फायदे जानकर आप खुसी से उछल पड़ेंगे

अकरकरा का परिचय- What is Akarkara ?

दोस्तों आयुर्वेद में मुख्य रूप से अकरकरा को कामोत्तेजक औषधियों के वर्ग में रखा गया है। इसके समान गुण वाली ही अन्य औषधियां जैसे अश्वगंधा शतावरी आदि को इसके साथ प्रयोग करने से बल वीर्य व कामेच्छा में वृद्धि होती है।
 
दोस्तों यदि सीत प्रवृति अर्थात कफज प्रकृति के लोग यदि अकरकरा का प्रयोग करते हैं तो यह औषधि उन्हें अत्यंत लाभ पहुंचाती है।
दोस्तों अकरकरा का वानस्पतिक नाम Anacyclus pyrethrum होता है। यह एक asteraceae कुल का पौधा है तथा अंग्रेजी में इसे pellitory root कहा जाता है।
 

अकरकरा के फायदे और उपयोग- Uses and benefits of Akarkara

आईये दोस्तों जानते हैं अकरकरा का प्रयोग विभिन्न रोगों के इलाज में किस प्रकार से करना चाहिए-
  • सिर दर्द में अकरकरा के फायदे- Bnefits Akarkara in headache
दोस्तों प्राचीन काल से ही भारतीय गांवों के स्त्री पुरुष अकरकरा का प्रयोग सिर दर्द जैसे समस्याओं को दूर करने के लिए प्रयोग करते आ रहे हैं। सिर दर्द को दूर करने के लिए अकरकरा की जड़ या इसके फूलों को पीसकर फिर इसके पश्चात इसे हल्का गर्म करके माथे पर लेप करने से सिर दर्द दूर हो जाता है।
  • दांतों की समस्या में अकरकरा के फायदे- Benefits of Akarkara in tooth diseases
दोस्तों यदि आपकी दातों में भी कीड़े लग गए हो अथवा दातों के मसूड़ों में सूजन आ गई हो या थोड़ा बहुत रक्त स्त्राव होता हो तो यदि आप अकरकरा का चूर्ण अपने दांतो में मिलते हैं तो बहुत ही जल्द दांतो की यह सभी समस्याएं दूर होने लगती हैं।
 
  •  अकरकरा करें मुंह की बदबू दूर- Benefits of Akarkara in bad breath
जी हां दोस्तों, अकरकरा का प्रयोग करके आप मुंह की बदबू से भी छुटकारा पा सकते हैं। इस प्रयोग को करने के लिए अकरकरा के साथ माजूफल, भुनी हुई फिटकरी, काली मिर्च, सेंधा नमक और नागर मोथा का प्रयोग समभाग मात्रा में किया जाता है।
इन सभी सामग्रियों का चूर्ण बनाकर सुबह-शाम प्रतिदिन मंजन करने से दातों के सभी रोग दूर हो जाते हैं, मसूड़े स्वस्थ बन जाते हैं तथा मुंह की दुर्गंध दूर हो जाती है।
 
  • अकरकरा करे सांसों की समस्याओं को दूर- Benefits of Akarkara in breath problem
जी हां दोस्तों अकरकरा का नियमित प्रयोग आपकी सांसों की समस्याओं को भी दूर कर सकता है। इस प्रयोग को करने के लिए आपको अकरकरा के चूर्ण को पहले कपड़े से छान लेना चाहिए और इसे सावधानीपूर्वक धीरे-धीरे सूंघना चाहिए।
  • पेट दर्द में अकरकरा के फायदे- Benefits of Akarkara in toothache
दोस्तों अक्सर घर के बाहर का फास्ट फूड गोलगप्पे मसालेदार भोजन आदि खाने से पेट में गैस और बदहजमी की समस्या होना आम बात है।
इस समस्या को दूर करने के लिए यदि हम अकरकरा के चूर्ण को छोटी पिपली के चूर्ण को लेकर समान मात्रा में मिला लें और इसमें थोड़ा सौंफ मिलाकर सेवन करें तो पेट की यह समस्या जल्द ठीक हो जाती है।
 
  • अकरकरा रखे हदय को सेहतमंद- Benefits of Akarkara for Heart
जी हां दोस्तों अन्य बीमारियों को दूर करने के साथ-साथ अकरकरा हृदय को भी स्वस्थ बनाए रखने में बहुत ही फायदेमंद है। कमजोर हृदय वाले रोगियों के लिए तो अकरकरा किसी वरदान से कम नहीं है।
इस समस्या को दूर करने के लिए अकरकरा का चूर्ण लेकर उसकी दोगुनी मात्रा में अर्जुन छाल का चूर्ण लेना चाहिए। इन दोनों को मिलाकर सुबह शाम आधा-आधा चम्मच लेकर सेवन करने से हृदय की तमाम समस्याओं से जल्द ही छुटकारा मिल जाता है।
 
  • महिलाओं के मासिक चक्र को सुधारे अकरकरा- Benefits of Akarkara for irregular periods problem of Women
दोस्तों अक्सर बहुत सी महिलाएं मासिक धर्म के दिनों तमाम परेशानियों का सामना करती हैं जिनमें अधिक रक्त स्राव, कम रक्त स्राव, अनियमित रक्त स्राव या अधिक दर्द आदि प्रमुख हैं।
इस समस्या को दूर करने के लिए अकरकरा की जड़ का काढ़ा बनाना चाहिए। लगभग 10 ml काढ़े में चुटकी भर हींग डालकर सुबह शाम कुछ माह तक सेवन करने से मासिक धर्म ठीक होने लगता है साथ ही साथ इस दौरान होने वाले दर्द में भी कमी आती है।
  • अकरकरा करे मिर्गी की समस्या को दूर- Benefits of Akarkara in Epilepsy
जी हां दोस्तों आकर करा का प्रयोग करके मिर्गी रोग को भी ठीक किया जा सकता है। इस प्रयोग में अकरकरा के फूल या जड़ को सिरके में पीस लिया जाता है तथा इसमें थोड़ा सा शहद भी मिलाया जाता है।
5 से 10 मिलीलीटर इस मिश्रण का सेवन कराने से रोगी की हालत में सुधार देखने को मिलता है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here