वर्ष 2022 की होली मनाने से पहले रखें इन खास बातों का ख्याल। #holi-2022

holi 2022 date in india

#होली है : 2022 

दोस्तों होली का नाम सुनते ही इस त्यौहार के प्रति हर बच्चे, युवक, स्त्री-पुरुष के मन में उत्साह भर जाता है और आखिर ऐसा हो भी क्यों ना, क्योंकि होली का त्यौहार ऐसा त्यौहार है जिसमें लोग जाति धर्म, ऊंच-नीच आदि के सारे बंधन तोड़ कर एक दूसरे से प्रेम और स्नेह से गले मिलते हैं। दोस्तों यही कारण है कि आज होली केवल भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया भर के अन्य देशों में भी हर्ष और उल्लास के साथ मनाई जाने लगी हैं।

बहुत से लोग इस दिन का खास तौर पर इंतजार करते हैं क्योंकि इस दिन वह विशेष प्रकार के व्यंजनों का स्वाद प्राप्त करने की लालसा रखते हैं। कुछ प्रेमी जोड़ों के लिए तो यह दिन किसी वरदान से कम नहीं है। अधिकांश प्रेमी इस दिन अपनी प्रेमिका को रंग लगाकर, भांग के नशे में मदमस्त होकर नाचना चाहते है।
दोस्तों कुछ विशेष परेशानियों से बचने के लिए हमें होली के त्यौहार पर निम्नलिखित बातों का विशेष ध्यान अवश्य रखना चाहिए।

#रंग खेलने से पहले तेल लगाएं-

दोस्तों होली एक रंगों का त्योहार है इसलिए इसमें अबीर गुलाल और तरह-तरह के अन्य कृत्रिम रंगों का भारी मात्रा में प्रयोग किया जाता है। यह कृत्रिम रंग त्वचा के लिए अत्यंत नुकसानदेय साबित होते हैं। बहुत से व्यक्तियों को रंगों के प्रति एलर्जी होती है इसलिए उन्हें रंग खेलते समय विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। इसी संदर्भ में इन सभी समस्या से बचने के लिए विशेषज्ञ हमें यह सलाह देते हैं कि हम जब भी रंग खेलने जाएं तो अपने पूरे शरीर पर तेल की हल्की मालिश कर लें। तेल की मालिश करने से यह रंग हमारे शरीर से सीधा संपर्क नहीं बना पाएंगे अर्थात यह त्वचा पर नहीं लग पाएंगे। यदि यह रंग हमारी त्वचा पर लगते भी हैं तो ऐसा करने से इन्हें आसानी से छुड़ाया जा सकता है।

#रंग गुलाल खेलने से पहले सिर पर टोपी अवश्य लगाएं-

दोस्तों दूसरी सावधानी यह है कि हम जब भी रंग गुलाल आदि खेलने जाएं तो सिर पर टोपी अवश्य पहने। बालों को रंगों से बचाने के लिए यह तरह-तरह की टोपियां बाजार में आसानी से उपलब्ध होती हैं। सिर पर टोपी लगाने से आपके बाल इन रंगों के सीधे संपर्क में नहीं आते हैं, जिससे आपके बाल साफ रहते हैं और उन्हें किसी भी प्रकार की क्षति नहीं पहुंचती है।
 
gujhiya recipi

#होली की मिठाइयां घर पर ही बनाएं-

जी हां दोस्तों होली हो या कोई अन्य त्योहार आप प्रयास यह करें कि मिठाइयों को घर पर ही बनाए। भारत में इन त्योहारों पर बनाई जाने वाली मिठाइयों में जबरदस्त मिलावट की जाती है। अक्सर आपने समाचारों में यह सुना होगा कि फला फला स्थान पर इतने क्विंटल नकली मावा पकड़ा गया। इसके अलावा मिठाइयों को आकर्षक दिखाने के लिए विभिन्न प्रकार के कृत्रिम रंगों का प्रयोग किया जाता है। यह सभी पदार्थ हमारे शरीर के लिए अत्यंत नुकसानदेय साबित होते हैं। होली के शुभ अवसर पर आप घर पर ही बनाए गए मावे का प्रयोग करके विभिन्न प्रकार की स्वादिष्ट मिठाइयां बना सकते हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण भी बाहर से मिठाईयां लेना अभी पूरी तरह सुरक्षित नहीं है।
 

#रंगों को छुड़ाने के लिए गुनगुने पानी से नहाए-

जी हां दोस्तों अगर आपने रंग गुलाल आदि खेल लिए हैं तो उन्हें छुड़ाने के लिए गुनगुने पानी का प्रयोग करना बहुत फायदेमंद होता है। गुनगुने पानी का प्रयोग करने से हमारी त्वचा पर लगा हुआ रंग आसानी से छूट जाता है।
 

#होली के रंगों को छुड़ाने के लिए करें उबटन का प्रयोग-

जी हां दोस्तों अगर आपकी त्वचा बहुत ही ज्यादा संवेदनशील है तो आप इन रंगों को छुड़ाने के लिए ऊबटन का प्रयोग भी कर सकते हैं। उबटन का प्रयोग करने से आपकी त्वचा को अतिरिक्त नमी प्राप्त होगी और साथ ही साथ आपकी त्वचा चमकदार बनेगी।
 

#नहाने के बाद तेल अवश्य लगाएं-

जी हां दोस्तों नहाने के बाद तेल लगाने से त्वचा को पोषण मिलता है साथ ही साथ आपकी त्वचा मुलायम बनती है और सामान्य इंफेक्शन से भी सुरक्षित रहती है।
 

#देर रात तक रंग ना खेलें-

दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं अभी ठंड का असर पूरी तरह से समाप्त नहीं हुआ है इसलिए देर रात तक रन खेलना बिल्कुल भी अच्छा नहीं है। ऐसा करने से आप को ठंड लग सकती है व आपको सर्दी जुखाम हो सकता है।
bhang ka nasha

#इस होली नशे से दूर रहें-

दोस्तों बहुत से लोग होली जैसे पावन अवसर पर शराब गांजा और भांग का अंधाधुन सेवन करते हैं। ऐसा करने से उनके स्वास्थ्य को तो हानि पहुंचती ही है साथ ही साथ किसी बड़ी दुर्घटना की भी संभावना बनी रहती हैं। अक्सर देखा गया है कि होली के अवसर पर शराब पीकर गाड़ी चलाने से बहुत सी दुर्घटनाएं हो जाया करती हैं जिसकी जानकारी हमें होली के दूसरे दिन आने वाले समाचार पत्रों में मिलती है। दोस्तों यदि आप भी ऐसा करते हैं तो इस होली पर आप प्रण लें कि आप शराब या ऐसे ही किसी अन्य नशे को हाथ तक नहीं लगाएंगे। होली एक पावन त्यौहार है कृपया इसे पवित्र बनाए रखें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here