जानिए अश्वगंधा के अद्भुत फायदे (How to use Ashwagandha in hindi)

ashwagandha ke fayde

अश्वगंधा का परिचय :

दोस्तों अश्वगंधा भारतीय आयुर्वेद में वर्णित एक प्रमुख वाजीकारक, स्वास्थय वर्धक और स्मरण शक्ति वर्धक हेल्थ टॉनिक है इसकी जड़ों से अश्व अर्थात घोड़े की गंध आती है इसलिए इसका नाम अश्वगंधा पड़ा है साथ ही साथ यह भी माना जाता है की इसके सेवन से पुरुष के शरीर में घोड़े जैसी ताकत पैदा हो जाती है दोस्तों इसे Witharnia Somnifera, Indian Ginseng, Poision Gooseberry, या Winter Cherry भी कहा जाता है

आइए अब जानते है कि अश्वगंधा के क्या-क्या उपयोग हैं :

  • दुर्बलता नाशक के रूप में :

जी हाँ दोस्तों अगर आपका शरीर दुबला-पतला है तो अश्वगंधा की 10 ग्राम मात्रा गुनगुने दूध में मिलकर सुबह-शाम  पीने से आपका शरीर हस्ट-पुस्ट बनने लगता है  इस नुस्खे का प्रयोग कम से कम तीन माह तक अवस्य करना चाहिए

  • कमजोर स्मरण शक्ति के लिए :
जी हाँ दोस्तों कमजोर स्मरण शक्ति की समस्या से निजात पाने के लिये भी अश्वगंधा का सेवन करना किसी वरदान से कम साबित नहीं होता है वृद्धावस्था और विद्यार्थी जीवन में लगभग सबको इस समस्या से रूबरू होना पड़ता है  यादास्त को दुरुस्त करने के लिए ऐसी मान्यता है की यदि गाय के कच्चे दूध के साथ इसका सेवन किया जाय तो बहोत जल्द ही इस समस्या से छुटकारा मिलने लगता है
  • स्पर्म  काउंट को बढ़ाने के लिए :
जी हाँ दोस्तों जिन  पुरुषो में धातु छीड़ता पायी जाती है तथा जिनका स्पर्म काउंट बहुत ही कम है उनको अश्वगंधा की 15 ग्राम मात्र  का सेवन गाय के देसी घी के साथ करने की सलाह दी जाती है इस नुस्खे का प्रयोग भी लगभग 3 माह तक करने की सलाह दी जाती है , यह बात रोगी की अवस्था पर भी निर्भर करती है 
  • अनिद्रा में :
जी हाँ दोस्तों अनिद्रा की परेशानी से निपटने में भी अश्वगंधा बहुत कारगर साबित होती है ऐसे रोगियों को अश्वगंधा के खीर पाक खाने की सलाह दी जाती है
  • महिलायों में सफ़ेद पानी जाने की समस्या में :
जिन महिलाओं में सफेद पानी जाने की समस्या होती है, उसमें भी अश्वगंधा को कारगर माना गया है। इसके अलावा यह महिलाओं और पुरुषों दोनों में फर्टिलिटी को बढ़ावा देने में मदद करता है। इसके साथ ही यह शरीर की रोग प्रतिरोधक शक्ति को भी बढ़ता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here